Home>>Uncategorized>>खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री उपेंद्र तिवारी कोरोना पोजिटिव
Uncategorized

खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री उपेंद्र तिवारी कोरोना पोजिटिव

लखनऊ/डॉ आरके विश्वकर्मा
उत्तर प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार पर कुछ नियंत्रण करने की खातिर सीएम योगी आदित्यनाथ ने 55 घंटा का लॉकडाउन घोषित किया है, लेकिन हालात बदतर होते जा रहे हैं। हरदोई में तैनात रहे पुलिस क्षेत्राधिकारी की रविवार को कोरोना संक्रमण से मौत हो गई जबकि शनिवार को प्रदेश में रिकॉर्ड 1403 संक्रमित मिले थे। वाराणसी में रविवार को 38 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ गए हैं। जिले में अब कुल संक्रमितों की संख्या 798 हो गई है। प्रदेश में कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह, आयुष चिकित्सा मंत्री डॉ.धर्म सिंह सैनी, होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान के बाद अब खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री(स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी भी कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में हैं। बलिया के फेफना से विधायक और खेल, युवा कल्याण व पंचायती राज मामलों के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार उपेंद्र तिवारी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उत्तर प्रदेश के युवा कल्याण और खेल मंत्री उपेंद्र तिवारी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मंत्री उपेंद्र तिवारी को पीजीआई के कोविड-19 अस्पताल में भर्ती किया गया है। मंत्री उपेंद्र तिवारी का शनिवार उनके गौतम पल्ली स्थित आवास पर सैंपल लिया गया था। इसे जांच के लिए केजीएमयू के माइक्रोबायोलॉजी लैब में भेजा गया था, जहां जांच के बाद उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। संक्रमण की पुष्टि के बाद लखनऊ सीएमओ की टीम मंत्री उपेंद्र तिवारी के घर पहुंची। जहां उनके परिवार, स्टाफ और पीएस समेत 15 लोगों की सूची बनाई गई है और इनके भी सैंपल लिए जा रहे हैं। वहीं मंत्री उपेंद्र तिवारी के गौतम पल्ली स्थित सरकारी आवास को सैनिटाइजेशन के लिए सील कर दिया गया है। उनके आवास में कार्यरत सभी कर्मचारियों के कोरोनावायरस के सैंपल लिए जाने की प्रक्रिया पूरी की जा रही है। साथ ही मंत्री के संपर्क में आए लोगों की सूचि बनाकर उनकी भी जांच की जाएगी। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री डॉ. उपेंद्र तिवारी ने शुक्रवार को खेल विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक भी की थी। अब तो विभागीय अधिकारियों में खलबली मची है। हरदोई में हरियावां सर्किल के सीओ नागेश मिश्रा करीब दस दिन पहले बीमार हो गए थे। निमोनिया होने पर उनका इलाज चल रहा था। इसी बीच जिला अस्पताल में उनका ट्रूनेट कोरोना टेस्ट कराया गया जोकि निगेटिव आया। इसके बाद भी हालत में सुधार न होने पर लखनऊ रेफर कर दिया गया। यहां कोरोना जांच में उनका टेस्ट पॉजिटिव आया।
हालत में सुधार न होता देख शनिवार को उनको किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज से संजय गांधी पीजीआई में शिफ्ट किया गया। जहां वह वेंटीलेटर पर थे। रविवार की सुबह उनका निधन हो गया। नागेश मिश्रा सीओ के पहले हरदोई में शहर कोतवाल के अलावा सांडी, पिहानी में कोतवाल भी रहे। केजीएमयू के माइक्रोबायोलॉजी विभाग लैब में कल जांच के लिए 3977 सैंपल भेजे गए थे। जिनकी रिपोर्ट आज मिली है। इनमें से 179 पॉजिटिव हैं। इनमें लखनऊ के 75, संभल के 37, मुरादाबाद के 24, बाराबंकी के 21, शाहजहांपुर के आठ, मथुरा के सात, हरदोई के पांच और गाजीपुर तथा लखीमपुर खीरी के एक-एक हैं।पीत पीतल नगरी मुरादाबाद में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। रविवार की शाम लखनऊ से मिली रिपोर्ट में 43 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. दिनेश कुमार प्रेमी ने बताया कि 43 संक्रमित मि‍ले हैं। इनके संपर्क में आए लोगों की सूची बनाई जा रही है। अब तक 750 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 29 लोगों की मौत हो चुकी है, वर्तमान में 304 सक्रिय मरीज हैं। अमरोहा में रविवार को 249 लोगों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इसमें दस कोरोना पॉजिटिव मिले हैं जबकि, 234 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान की फैक्ट्री के पांच कर्मचारियों के भी नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। वह अपनी फैक्ट्री में बीते दिनों आए थे। लखनऊ में कोरोना पाजिटिव रिपोर्ट आने के चलते भर्तीं हैं। स्वास्थ्य विभाग उन सभी लोगों की सूची बना रहा है, जो पौधारोपण के दौरान कैबिनेट मंत्री के संपर्क में आए थे। उन सभी को होम क्वारंटाइन किया जाएगा। सीतापुर में शनिवार देर रात सीडीआरआई से सीएमओ को प्राप्त रिपोर्ट में किशोरी सहित तीन और लोगों के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। इसमें बिसवां क्षेत्र की 16 वर्षीय किशोरी भी शामिल है। सीएमओ डॉ आलोक वर्मा ने बताया कि परसेंडी क्षेत्र के लालपुर गांव के एक महिला ने कुछ दिन पहले किसी बात को लेकर कीटनाशक का सेवन कर लिया था। उसके घर वालों ने उसे 5 जुलाई को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। डॉक्टरों ने इसे केजीएमयू लखनऊ रेफर कर दिया था, जहां जांच में महिला 7 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। इस महिला की बहू भी कोरोना वायरस से संक्रमित है। इसे खैराबाद अस्पताल में शिफ्ट किया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ बिसवां कस्बे के खंभा पुरवा मुहल्ले की 16 वर्षीय किशोरी भी कोरोना से संक्रमित मिली है। बिसवां के मगरहिया मुहल्ले का 43 वर्षीय एक युवक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इन सभी को खैराबाद अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। परसेंडी सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर सुनील शुक्ला ने बताया कि लालपुर की महिला में कोरोना वायरस की पुष्टि 7 जुलाई को हुई थी। वह के केजीएमयू में भर्ती है। उसका दूसरा सैंपल भी जांच में पॉजिटिव आया है।
कोरोना वायरस संक्रमण का प्रसार उत्तर प्रदेश में लगातार बढ़ रहा है। जुलाई में ज्यादा मरीज मिलने के एक के बाद एक रिकार्ड टूट रहे हैं। शनिवार को रिकार्ड 1403 नए मरीज मिले। बीते 24 घंटे में सर्वाधिक 42,354 नमूनों की जांच भी की गई। इससे पहले शुक्रवार को 1347 मरीज मिले थे। वहीं इस खतरनाक वायरस के संक्रमण ने शनिवार को 25 और लोगों की जान ले ली। प्रदेश में अब तक कुल 913 लोग कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ चुके हैं। वहीं अब एक्टिव केस बढ़कर 11,490 हो गए हैं और अब तक कुल 22,689 मरीज स्वस्थ हुए चुके हैं। कोरोना से अब तक कुल 35,103 लोग संक्रमित हो चुके हैं।
प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री मोती सिंह के बाद योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्री चेतन चौहान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। शनिवार को वह इस जानलेवा वायरस के संक्रमण की जद में आ गए। शुक्रवार को लखनऊ के सिविल अस्पताल में यूपी के होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान की जांच की गई थी। निदेशक डॉ. डीएस नेगी के मुताबिक ट्रूनेट टेस्ट में मंत्री में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के मुताबिक मंत्री चेतन चौहान को संजय गांधी पीजीआई में भर्ती करा दिया गया। उनके परिवार के लोगों के भी टेस्ट कराए जाएंगे। वहीं, समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद धर्मेन्द्र यादव, विधानमंडल दल के नेता राम गोविंद चौधरी के बाद अब एमएलसी सुनील सिंह साजन कोरोना वायरस के संक्रमण में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: https://www.aapkikhabre.in/