Home>>Uncategorized>>पंचायत मतदाता सूची से हटाए गए 61 गांव,बाहर हुए 90 हजार से अधिक मतदाता
Uncategorized

पंचायत मतदाता सूची से हटाए गए 61 गांव,बाहर हुए 90 हजार से अधिक मतदाता

वाराणसी/नि.सं.
सरकार की अधिसूचना के बाद जिले के 61 गांव नगर निगम में शामिल हो चुके हैं। अब इन गांवों में पंचायत का चुनाव नहीं होगा। राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश के क्रम में इन गांवों को पंचायत मतदाता सूची से बाहर कर दिया गया है। इन पंचायतों के 90 हजार से अधिक मतदाता भी बाहर कर दिए गए हैं। अब जनपद में 699 ग्राम पंचायतों में ही चुनाव होंगे। हालांकि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तिथि अभी घोषित नहीं है लेकिन विभागीय तैयारी शुरू हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग ने 15 सितंबर से वृहद मतदाता सूची पुनरीक्षण का संकेत दे दिया है। इस आशय का पत्र भी जिला मुख्यालय पर आ चुका है। बीएलओ की तैनाती भी शुरू हो गई है। 1200 के करीब बीएलओ के नाम आदि की फीङ्क्षडग हो रही है। साथ ही इन्हें आवश्यक सामान उपलब्ध कराने के लिए क्रय की तैयारी भी शुरू है। पंचायत के मतदाता सूची से 61 गांवों के बाहर होने के बाद मतदान केंद्र व मतदान स्थल भी कम हो जाएंगे। पहले जिले में कुल 903 मतदान केंद्र व 2811 मतदान स्थल बनता था। 18 लाख मतदाता थे। अब इनकी संख्या भी कम हो जाएगी। हालांकि पुनरीक्षण के बाद ही इसकी संख्या निर्धारित करने की बात है। दूसरी तरफ चुनाव कब होंगे, इसको लेकर अटकले लगाई जा रही हैं। निर्वाचन से जुड़े लोगों का कहना है कि अगले साल होली के बाद चुनाव होंगे। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि यह चुनाव अगले साल मई-जून में होंगे। अभी तक गांवों में चुनाव को लेकर बैकफुट पर जाने वाले प्रत्याशी भी चुनावी तैयारी में जुट गए हैं। यह भी यही अनुमान लगा रहे हैं कि होली बाद चुनाव होंगे। गांवों में प्रधानी के लिए किस्मत आजमाने वाले सक्रिय हो गए हैं।
मतदाता सूची पुनरीक्षण की तैयारी को लेकर आयोग का पत्र आ चुका
मतदाता सूची पुनरीक्षण की तैयारी को लेकर आयोग का पत्र आ चुका है। जिले में तैयारी शुरू कर दी गई है। बीएलओ के नाम आदि की फीडिंग शुरू करा दिया गया है। आदेश मिलते ही इस दिशा में कार्य शुरू होगा।-आरआर वर्मा,सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: https://www.aapkikhabre.in/