Home>>Uncategorized>>संभवतः तालाब में डूबने से हुई मौत, पीएम रिपोर्ट का इंतजार एसपी
Uncategorized

संभवतः तालाब में डूबने से हुई मौत, पीएम रिपोर्ट का इंतजार एसपी

फतेहपुर/नि.सं.
असोथर थाना क्षेत्र के छिछनी गांव में दो सगी दलित बहनों केशव तालाब में मिले हैं, दोनों की आंखों पर गंभीर चोट के निशान हैं तथा दोनों के हाथ पैर सिंघाड़े की बेल (तार) से बंधे थे। ग्रामीणों में चर्चा है कि दोनों बहनों की रेप के बाद हत्या की गई है और उनकी आंख फोड़ दी गई है। वहीं पुलिस का कहना है कि दोनों किशोरियां तालाब में सिंघाड़े तोड़ने गईं थी और संभवतः गहरे पानी में चले जाने से उनकी मृत्यु हो गई। पुलिस का कहना है कि मौत की सही वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर पता चलेगी, मामले की गहराई से छानबीन की जा रही है। दूसरी ओर किशोरियों के परिजनों का कहना है कि दोनों बहनें घर से दोपहर में चने का साग तोड़ने के लिए खेत पर गए ई थी। ग्रामीण राम स्वरूप का कहना है कि बड़ी बहन की आंख में गंभीर चोट के निशान हैं जबकि छोटी बहन की आंख फोड़ दी गई। दोनों के सिर व चेहरे पर चोटों के निशान थे और दोनों के हाथ पैर सिंघाड़े की बेल वाले तार से बंधे हुए थे।किशोरियों के चचेरे भाई लक्ष्मीकांत के अनुसार पुलिस ने मौके से बिना पंचनामा भरे शवों को जबरन पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उसने यह भी आरोप लगाया कि उसे अधिकारियों से अपनी बात नहीं कहने दी गई, एक पुलिस वाले ने उसे गर्दन पकड़कर ढकेल दिया। असोथर थाना क्षेत्र के छिछनी गांव में रहने वाले दिलीप सविता की आठ वर्षीय बेटी शुभि और 12 वर्षीय किरन सोमवार दोपहर चने का साग तोड़ने खेत पर गई थीं। काफी समय तक दोनों वापस घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने तलाश शुरू की लेकिन कहीं पता नहीं चल सका। जंगल से वापस लौट रहे ग्रामीणों ने गांव के बाहर स्थित नदी से कुछ ही दूरी पर स्थित एक तालाब में दोनों बहनों के शव उतराते देखे तो परिजनों को सूचना दी। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने ग्रामीणों की मदद से दोनों को बाहर निकाला लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। दोनों बच्चियों के पैर बंधे थे और आंखें फूटी थीं, इससे इलाके में सनसनी फैल गई। घटना की जानकारी पर रात में ही पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टर्माटम के लिए भेज दिया। ग्रामीण बहनों के साथ गैंग रेप की आशंका जता रहे हैं, हालांकि एसपी प्रशांत वर्मा का कहना है कि सिंघाड़ा तोड़ते समय दोनों बच्चियों की डूबने से मौत हुई है, आंखों में हल्की खरोंच है। एसएसपी राजेश कुमार के अनुसर पुलिस को करीब नौ बजे रात में मामले की सूचना दी मिली। उन्होने बताया कि परिजन और ग्रामीणों ने अज्ञात पर बलात्कार या बलात्कार करने में असफल होने पर हत्या कर के शव तालाब में फेंके जाने का आरोप लगाया है। मामले की गहराई से जांच-पड़ताल की जा रही है, मौत के असली कारणों की जानकारी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: https://www.aapkikhabre.in/