Home>>Uncategorized>>बजट के अभाव में नौ वर्षों से अधूरा पड़ बिन्दकी बाईपास
Uncategorized

बजट के अभाव में नौ वर्षों से अधूरा पड़ बिन्दकी बाईपास

फतेहपुर/नि.सं.
पिछले 9 वर्षों से बिन्दकी बाईपास अधूरा पड़ा हुआ है जिसके चलते नगर के अंदर दिनभर भीषण जाम लगता है। इस बात को लेकर लोगों में नाराजगी का माहौल है लोगों का कहना है कि कई बार आश्वासन के बावजूद भी अभी तक बाईपास नहीं बन पाया है जिसके कारण नगर के अंदर भीषण जाम लगता है। दुर्घटनाएं होती हैं यहां तक कि लोग मौत का शिकार भी हो जाते हैं। नगर के निकट बाईपास का निर्माण 2011 से प्रारंभ हुआ था लेकिन पिछले 9 वर्षों से यह बाईपास अधूरा पड़ा हुआ है। करीब 5 किलोमीटर लंबा यह बाईपास 8 करोड़ रुपए की कीमत से तैयार होना था। यह बाईपास उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी की सरकार के दौरान बनना प्रारंभ हुआ था। लेकिन 2 स्थानों में अधूरा रह गया था जिसके बाद मां ज्वाला देवी मंदिर के समीप वाले स्थान पर थोड़ा काम हुआ लेकिन डामरीकरण अभी भी बाकी है। वहीं दूसरी ओर कुंवरपुर रोड में फायर स्टेशन के समीप करीब 300 मीटर में बाईपास अधूरा पड़ा हुआ है जिसके चलते बाईपास सफेद हाथी साबित हो रहा है। लोगों ने कई बार मांग किया की बाईपास को जल्द बनवाया जाए लेकिन अभी तक सिर्फ आश्वासन ही लोगों को दिखाई पड़ा है बाईपास अधूरा होने के कारण नगर के अंदर सुबह से शाम तक दिन भर जाम की स्थिति रहती है। लोगों को वाहन तो दूर पैदल चलना भी और निकलना भी कठिन हो जाता है अक्सर दुर्घटनाएं होती रहती हैं कभी-कभी तो दुर्घटनाओं के कारण लोग मौत का शिकार भी हो जाते हैं। जिसको लेकर लोगों में नाराजगी का माहौल है लोगों का कहना है कि जिम्मेदार लोगों द्वारा बार-बार यही जवाब मिलता है जल्दी बाईपास का निर्माण पूरा हो जाएगा लेकिन पिछले 9 साल से यह अधूरा पड़ा हुआ है। कुंवरपुर रोड निवासी सुरेश कुमार कहते हैं कि बहुजन समाज पार्टी की सरकार के दौरान यह बाईपास बनना प्रारंभ हुआ था। लेकिन बाईपास थोड़ा बन्ना शेष रह गया था इसके बाद बहुजन समाज पार्टी की सरकार चली गई थी इसके बाद पूरे 5 वर्ष समाजवादी पार्टी की सरकार रही लेकिन 1 फुट भी बाईपास का निर्माण नहीं हो पाया था। इसके बाद भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी लोगों को आशा ताकि जल्दी बाईपास निर्माण पूरा हो जाएगा लेकिन 3 वर्ष से अधिक बीत गए अभी भी बाईपास का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: https://www.aapkikhabre.in/